2020 में भारत में लॉन्च हो सकती है फॉक्सवेगन टी-क्रॉस, हाइब्रिड अवतार को लेकर कंपनी ने कही ये बात

  • Posted on: 10 January 2019
  • By: admin
नई दिल्ली। फॉक्सवेगन अपनी कॉम्पैक्ट एसयूवी टी-क्रॉस को 2020 के अंत तक भारत में लॉन्च कर सकती है। कंपनी इसे फॉक्सवेगन ग्रुप के 2020 इंडिया 2.0 बिजनेस प्लान के तहत भारत में लॉन्च करेगी। इसका प्रोडक्शन भारत में ही किया जाएगा। कंपनी ने टी-क्रॉस को अक्टूबर 2018 में यूरोप, दक्षिणी अमेरिका और चीन के बाज़ारों हेतु पेश किया था। इसे एमक्यूबी-ए0 प्लेटफार्म पर तैयार किया गया है। इसी प्लेटफार्म पर पोलो और विर्टस (नेक्स्ट जनरेशन वेंटो) को भी डिज़ाइन किया गया है। 
ष्ड्डह्म्स्रद्गद्मद्धश.ष्शद्व के मुताबिक, ग्लोबल मार्केट में टी-क्रॉस पेट्रोल और डीज़ल दोनों पॉवरट्रेन में उपलब्ध है। कयास लगाए जा रहे थे कि कंपनी इसे हाइब्रिड या प्लग-इन हाइब्रिड वजऱ्न में भी लॉन्च करेगी, लेकिन फॉक्सवेगन ने हाल ही में इस बात से इनकार कर दिया है। कंपनी के अनुसार टी-क्रॉस के इलेक्ट्रिक वजऱ्न को लॉन्च करने पर कार की कीमत बढ़ जाएगी। यही नहीं, ऐसा करने पर कार की कीमत फॉक्सवेगन की अपकिंग इलेक्ट्रिक कार आईडी हैचबैक के बराबर जा सकती है। जानकारी के लिए बता दें कि 2020 आईडी हैचबैक एक ऑल-इलेक्ट्रिक कार है, जिसे एमईबी प्लेटफार्म पर तैयार किया गया है। यह फुल चार्ज में 500 किलोमीटर तक का सफर तय करने में सक्षम है। उम्मीद की जा रही है कि भारत में टी-क्रॉस की कीमत 10 लाख रुपये से 16 लाख रुपये के बीच होगी। वहीं, 2020 आईडी की यूरोप में कीमत 25,000 यूरो (लगभग 20 लाख रुपये) से कम होने की उम्मीद है। इसका मतलब है कि टी-क्रॉस के  हाइब्रिड या प्लग-इन हाइब्रिड वजऱ्न की कीमत भी लगभग 20 लाख रुपये (आईडी इलेक्ट्रिक के आस-पास) हो सकती है। इस कीमत पर टी-क्रॉस एक आकर्षक पैकेज नहीं लग रहा है।  कीमत के आधार पर टी-क्रॉस का मुकाबला हुंडई क्रेटा, मारूति एस-क्रॉस, रेनो कैप्चर, निसान किक्स और सेकेंड जनरेशन रेनो डस्टर से होगा। ये सभी कारें भी पारम्परिक इंटरनल कंबस्चन (आई.सी.) इंजन के साथ आती है। टी-क्रॉस के भारतीय वजऱ्न में 1.0 लीटर का टर्बोचार्ज पेट्रोल इंजन दिया जाएगा। इस इंजन को भारत में ही बनाया जाएगा। टी-क्रॉस में डीज़ल इंजन विकल्प मिलेगा या नहीं, यह अभी साफ़ नहीं हो पाया है, क्योंकि फॉक्सवेगन अप्रैल 2020 से लागू होने वाले भारत स्टेज-6 उत्सर्जन मानदंडों के बाद अपने 1.5 लीटर टर्बो डीज़ल इंजन को बंद कर सकती है। 
Category: