सीमावर्ती जिलों के विकास हेतु 207 करोड़ की लागत से 933 कार्यों की योजना अनुमोदित:गुप्ता

  • Posted on: 25 August 2019
  • By: admin

जयपुर। मुख्य सचिव डी.बी. गुप्ता की अध्यक्षता में सीमान्त क्षेत्र विकास कार्यक्रम(केन्द्र प्रवर्तित योजना) की 34 वीं राज्य स्तरीय स्क्रनिंग कमेटी ने सीमावर्ती जिलों जैसलमेर, बाड़मेर, बीकानेर एवं श्रीगंगानगर के विकास हेतु 207 करोड़ की लागत से वित्तीय वर्ष 2019-20 में कराये जाने वाले 933 कार्यों की योजना को अनुमोदित कर दिया। मुख्य सचिव ने बैठक में जैसलमेर, बाड़मेर एवं बीकानेर जिलों के कलक्टर्स को निर्देश दिये कि वे सीमान्त क्षेत्रीय विकास योजना में करवाए गए कार्यों केे वर्ष 2016-17 तक उपलब्ध कराई गई राशि के लम्बित उपयोगिता प्रमाण-पत्र अविलम्ब भिजवाना सुनिश्चित्त करें।
उन्होंने बाड़मेर व श्रीगंगानगर के जिला कलक्टर को योजना के अन्तर्गत पूर्व में मॉडल विलेज योजना में स्वीकृत कार्यों को शीघ्र पूरा करने के निर्देश दिये। बैठक में जिला स्तरीय कमेंटी में सांसद एवं विधायक गणों से प्राप्त कार्यों के प्रस्तावों पर भी चर्चा की गई। विधायकों द्वारा सीमावर्ती जिलों में बिजली विभाग के कार्यों को समय पर पूर्ण नहीं करवाए जाने की बात सामने आने पर गुप्ता ने बिजली विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि अपूर्ण कार्यों को समय पर पूर्ण करना सुनिश्चित करें। बैठक में सीमावर्ती जिलों में राजस्थान कौशल एवं आजीविका विकास निगम द्वारा आयोजित कौशल प्रशिक्षण हेतु 17 हजार रुपये प्रति प्रशिक्षणार्थी के स्थान पर 25 हजार रुपये प्रति प्रशिक्षणार्थी निधारण करने के सम्बन्ध में भारत सरकार को स्वीकृति हेतु भिजवाने का निर्णय लिया गया। यूथ एक्सचेंज कार्यक्रम के तहत चारों जिलों में 3432 सम्भागियों की संख्या पर 142 लाख रुपये व्यय करने के प्रस्ताव लिये गए। अतिरिक्त मुख्य सचिव, ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग राजेश्वर सिंह ने जैसलमेर, बाड़मेर, बीकानेर एवं श्रीगंगानगर जिलों के जिला कलक्टर्स को निर्देश दिए कि चालू वित्तीय वर्ष में तृतीय पक्ष निरीक्षण, त्रैमासिक प्रगति प्रतिवेदन एवं योजना के अंकेक्षण का कार्य समय पर कराया जाना सुनिश्चित करें। सिंह ने जिला कलक्टर्स को निर्देश दिये कि सीमान्त क्षेत्र विकास कार्यक्रम की जिला स्तरीय समिति से लाईन विभागों के समय पर बैठक आयोजित कर योजना के अन्तर्गत प्रगतिरत कार्यों की समीक्षा एवं प्रभावी मॉनिटरिगं करते रहें ताकि कार्य समय पर पूर्ण हो सके। बैठक में विधायक जैसलमेर रूपा राम, शिव विधायक अमीन खॉं, खाजूवाला विधायक गोविन्द राम, विधायक गंगा नगर राज कुमार गौड़, विधायक कर्णपुर गुरमीत सिंह कुन्नर, अतिरिक्त मुख्य सचिव, कृषि पी.के. गोयल, प्रमुख शासन सचिव, स्कूल शिक्षा, आर. वैंकटेश्वरन्, प्रमुख शासन सचिव राजस्व, संजय मल्होत्रा, प्रधान मुख्य वन संरक्षक (विकास) योगेन्द्र दक, शासन सचिव एवं आयुक्त आशुतोष ए. टी. पेडनेकर, शासन सचिव उच्च शिक्षा वैभव गालरिया, शासन सचिव ग्रामीण विकास, के.सी. मीणा, आयुक्त मनरेगा, पी.सी. किशन, जिला कलक्टर बाड़मेर हिमांशु ग्रप्ता, जिला कलक्टर बीकानेर के.पी. गोतम, जिला कलक्टर श्रीगंगानगर एन.एस. मदान, जिला कलक्टर जैसलमेर नमित मेहता, सीमा सुरक्षा बल के सैकण्ड इन कमांड वी.श्रीनिवास मूर्ति, प्रबन्ध निदेशक, डिस्कॉम ए.के. गुप्ता, मुख्य अभियन्ता जन स्वास्थ्य अभियान्त्रिकी एवं सार्वजनिक निर्माण विभाग, मुख्य कार्यकारी अधिकारी सहित अनेक अधिकारी उपस्थित थे।

Category: