सम्मानित कवि-साहित्यकारों को मुख्यमंत्री ने दी बधाई

  • Posted on: 25 January 2019
  • By: admin
जयपुर। अन्तर्राष्ट्रीय 'काव्या' फाउण्डेशन के तत्वावधान में यहां पिंकसिटी प्रेस क्लब में प्रदेश के 15 प्रतिष्ठित साहित्यकारों और पत्रकारों का उनकी सदीर्घ सेवाओं के लिए सम्मान किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत थे। गहलोत ने इस अवसर पर कहा कि प्रदेश की चर्चित साहित्यकार हस्तियां यहां मौजूद हैं जिनका आज यहां सम्मान हुआ है उन्हें मैं अपनी तरफ से बहुत-बहुत बधाई देता हूं।
गहलोत ने इस सफल कार्यक्रम के लिए काव्य के अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. परिक्षित सिंह को धन्यवाद दिया। उन्होंने भरोसा दिलाया कि कवि, साहित्यकार सरकार से सहयोग चाहेंगे तो हमारा प्रयास रहेगा कि उन्हें सहयोग मिले। कार्यक्रम में कला एवं संस्कृति मंत्री डॉ. बी.डी कल्ला ने कहा कि राष्ट्रभाषा हिन्दी एवं राजस्थानी साहित्य व संस्कृति को बढ़ावा देने के साथ ही लेखकों को प्रोत्साहन देने का यह सराहनीय प्रयास है। काव्या फाउण्डेशन के अध्यक्ष डॉ. परिक्षित सिंह ने सामाजिक दर्शन, विचार और मनुष्य के संघर्षों के विविध आयामों के साथ बेहतर भविष्य की संकल्पना को लेकर अपनी कविताएं प्रस्तुत की। ख्यातनाम कवियों और शायरों ने हिन्दी, राजस्थानी कविताओं और उर्दू शायरी के माध्यम से सामाजिक सरोकारों से जुड़ी अपनी उम्दा रचनाएं सुनाकर श्रौताओं का मन मोह लिया।
इस अवसर पर भाषा साहित्य और पत्रकारिता के क्षेत्र में अनवरत सेवाओं के साथ सुदीर्घ योगदान करने वाली 13 हस्तियों देवर्षि डॉ. कलानाथ शास्त्री, राजस्थान साहित्य अकादमी के पूर्व चैयरमैन एवं कवि लेखक वेदव्यास, राजस्थानी कवि पद्मश्री डॉ. सीपी देवल, राजस्थानी भाषा के विद्वान डॉ. कल्याणसिंह शेखावत, उपन्यासकार एवं मुख्यमंत्री के सलाहकार डॉ. गोविन्द शर्मा, 
शायर और उपन्यासकार हबीब कैफी, प्रमुख साहित्यकार डॉ. सत्यनारायण, सुप्रसिद्ध कवि कृष्ण कल्पित, कवि उपन्यासकार हरिराम मीना, प्रसिद्ध आलोचक डॉ. राजाराम भादू एवं डॉ. दुर्गाप्रसाद अग्रवाल, साहित्य अकादमी नई दिल्ली में राजस्थानी भाषा परामर्श मण्डल के संयोजक मधु आचार्य, वरिष्ठ पत्रकार एवं साहित्यकार डॉ. यशवन्त व्यास, वरिष्ठ पत्रकार नारायण बारेठ और वरिष्ठ पत्रकार एवं हरिदेव जोशी पत्रकारिता विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति सन्नी सेबेस्टियन को सम्मानित किया गया।
Category: