वॉयस ओवर आर्टिस्ट को मिलते हैं अच्छे पैसे, ऐसे बनाएँ कॅरियर

  • Posted on: 25 April 2018
  • By: admin
वो जमाने लद गए, जब लोग सिर्फ नौ से पांच की नौकरी करके की पैसा और सफलता प्राप्त करते थे। आज के दौर में अगर आपके पास टैलेंट है तो आप बेहद आसानी से सफलता चूम सकते हैं। ऐसा ही एक क्षेत्र है, वॉयस ओवर। आज के समय में टीवी से लेकर फिल्मों तक में वॉयस ऑवर आर्टिस्ट की डिमांड होती है। अगर आपकी आवाज भी अच्छी है और आप शब्दों के जरिए भावनाओं को व्यक्त करने में माहिर हैं तो सिर्फ अपनी आवाज के जादू से ही लोगों को न सिर्फ अपना दीवाना बना सकते हैं, बल्कि नाम और पैसा आसानी से पा सकते हैं।
स्किल्स-इस क्षेत्र में आपकी सफलता की कुंजी आपकी आवाज ही है। अगर आपकी आवाज दमदार है तो आप इस क्षेत्र में कदम रखने के बारे में सोच सकते हैं। वहीं आपको अपनी आवाज को भावों के अनुसार उतार-चढ़ाव देने आने चाहिए क्योंकि आपके शब्द ही उन भावों को जान देते हैं, जिन्हें आप बोलते हैं। इसके अतिरिक्त विभिन्न भाषाओं का ज्ञान भी आपके काम के लिए बेहद आवश्यक है। जब दो या दो से अधिक भाषाओं का ज्ञान रखते हैं तो आपके काम करने का दायरा काफी हद तक बढ़ जाता है।
कार्यक्षेत्र-वॉयस ओवर ऑर्टिस्ट का मुख्य काम किसी सीरियल, फिल्म, डॉक्यूमेंटी या कार्टून कैरेक्टर आदि के लिए आवाज देना होता है। वे खुद परदे के पीछे रहते हैं लेकिन अपनी आवाज से उस किरदार को जिंदा कर देते हैं। अगर आप किसी फिल्म या सीरियल को डब कर रहे हैं तो पहले आपको उस भाषा को समझकर उसे दूसरी भाषा में बोलना होता है। आपका कार्यक्षेत्र सिर्फ लिखी हुई लाइनों को ही नहीं बोलना होता, बल्कि उसे सही तरह से पेश करना उसका मुख्य काम होता है। मसलन आपकी लाइनों में किसी भी तरह की भाषाई गलती नहीं होनी चाहिए। इसके लिए आपको यह सुनिश्चित करना है कि आप जिस भाषा में वॉयस ओवर कर रहे हैं, उसके बारे में आपको पूरी तरह जानकारी होनी चाहिए। 
योग्यता-वैसे तो इस क्षेत्र में कॅरियर बनाने के लिए किसी विशेष योग्यता की आवश्यकता नहीं होती क्योंकि इस क्षेत्र में मुख्यत: आपकी आवाज की ही आवश्यकता होती है। लेकिन फिर भी अपनी आवाज में निखार लाने के लिए आप तीन से छह माह का डिप्लोमा कर सकते हैं। इसमें आप दसवीं के बाद भी दाखिला ले सकते हैं।
संभावनाएं-वर्तमान समय में, वॉयर ओवर आर्टिस्ट की काफी डिमांड है क्योंकि क्षेत्रीय भाषाओं की फिल्मों को भी कई भाषाओं में डब किया जाता है। इसके अतिरिक्त प्रोडक्शन हाउस, आकाशवाणी, विभिन्न टीवी चैनल्स, रेडियो चैनल्स, विज्ञापनों, एनिमेशन वर्ल्ड, डॉक्यूमेंट्री फिल्मों यहां तक कि विभिन्न प्रकार की सेवाओं में भी वॉयस ओवर आर्टिस्ट की डिमांड की जाती है। अगर आप एक साथ कई भाषाओं का ज्ञान रखते हैं या फिर आप कई तरह की आवाजें निकालने में सक्षम हैं तो आपके लिए संभावनाओं का आकाश और भी बड़ा हो जाता है। इस तरह आपको काफी सारा काम मिल सकता है। इतना ही नहीं, अलग-अलग भाषाओं का ज्ञान रखने वाले वॉयस ऑवर आर्टिस्ट विदेशों में भी आसानी से काम पा सकते हैं। आप एक बात याद रखें कि अगर आप अपने काम में माहिर हैं तो इस क्षेत्र में आपके लिए काम की कोई कमी नहीं है। 
वेतन-इस क्षेत्र में आपकी आमदनी मुख्य रूप से आपको मिलने वाले काम पर और आपकी आवाज की क्षमता पर निर्भर करती है। वैसे आमतौर पर एक वॉयस ऑवर आर्टिस्ट प्रतिघंटा 300 से 500 रूपए आसानी से कमा सकता है। वहीं अगर आप कहीं पर नौकरी करते हैं तो भी 30000 से लेकर 40000 रूपए आसानी से कमाए जा सकते हैं। अगर आप एक एनिमेशन प्रोजेक्ट करते हैं तो आपको हर प्रोजेक्ट के कम से कम दस से पंद्रह हजार रूपए आसानी से मिल जाएंगे।
प्रमुख संस्थान-* द वॉयस स्कूल, मुंबई। * जेवियर इंस्टीटयूट ऑफ कम्युनिकेशन, मुंबई। * आईसोम्स बेग फिल्मस, नोएडा। * एशियन एकेडमी ऑफ फिल्म एंड टेलीविजन, नोएडा। * अकादमी ऑफ रेडियो मैनेजमेंट, नई दिल्ली। 
* मुंबई फिल्म अकादमी, मुंबई। 
* इंस्टीटयूट ऑफ वॉयस कल्चर एंड डिजिटल डबिंग स्टूडियो, मुंबई
Category: