वल्र्ड वाइड वेब वैसी नहीं रही जैसा हम चाहते थे:टिम बर्नर्स ली

  • Posted on: 25 April 2019
  • By: admin
जिनेवा। वर्ल्ड वाइड वेब आज, जबकि 30 साल की हो चुकी है और आधी दुनिया इसका इस्तेमाल कर रही है। यह घृणा भाषण, गोपनीयता की चिंता और विभिन्न देशों द्वारा प्रायोजित हैकिंग जैसे दर्द का भी सामना कर रही है। ऐसे में इसके आविष्कारक टिम बर्नर्स ली ने इसे मानवता के लिए बेहतर बनाने का आह्वान किया है। उन्होंने कहा कि वेब अब वैसी नहीं रही, जैसा हम चाहते थे।
ली मंगलवार को यूरोपीय परमाणु अनुसंधान संगठन सीईआरएन में वेब के लिए आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल हुए। यहां उन्होंने अपनी बात 12 मार्च 1989 को प्रकाशित एक प्रस्ताव के जरिये शुरू की और अपने आविष्कार के बारे में जानकारी दी।
उन्होंने कहा कि वेब ने तकनीकी क्रांति ला दी, जिससे लोगों को सामान खरीदने, विचारों को साझा करने, जानकारी प्राप्त करने और बहुत कुछ करने का तरीका बदल गया। इसके साथ ही यह ऐसी जगह भी बन गई जहां तकनीकी जानकार व्यक्तिगत डाटा चुराते हैं, प्रतिद्वंद्वी सरकारें जासूसी कराती हैं, चुनावी ताकझांक की जाती है और अभद्र भाषा का प्रयोग किया जाता है।
ऐसी हरकतों ने वेब को इसकी जड़ों से अलग कर दिया। इसका उद्देश्य विकासोन्मुखी लोगों को एक मंच पर लाना था। सीईआरएन में वेब एट 30 सम्मेलन को संबोधित करते हुए ली ने स्वीकार किया कि वेब पर पहले से मौजूद कई लोगों के बीच एक भावना बन गई है-उफ! यह वेब वैसी नहीं रही, जैसी हम चाहते थे।
Category: