राज्य के अगस्त माह के थोक मूल्य सूचकांक में वृद्धि

  • Posted on: 10 October 2018
  • By: admin
जयपुर। राज्य के माह अगस्त, 2018 के थोक मूल्य सूचकांक में गत माह जुलाई, 2018 की तुलना में 0.53 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। राज्य का सामान्य थोक मूल्य सूचकांक आधार वर्ष (1999-2000 =100) पर माह अगस्त, 2018 में 303.54 रहा है, जबकि जुलाई, 2018 में यह 301.95 था।  आर्थिक एवं सांख्यिकी विभाग के निदेशक श्री ओमप्रकाश बैरवा ने बताया कि आलोच्य माह अगस्त, 2018 के सूचकांक में गत माह से वृद्धि का प्रमुख कारण प्राथमिक वस्तु समूह सूचकांक में 1.03 प्रतिशत तथा  ईधन, शक्ति, बिजली व उपस्नेहक समूह सूचकांक मेें 0.74 प्रतिशत की वृद्धि होना है
जबकि विनिर्मित उत्पाद समूह सूचकांक में 0.02 प्रतिशत की कमी प्रदर्शित होना है। माह अगस्त, 2018 के थोक मूल्य सूचकांक में गत वर्ष अगस्त, 2017 की तुलना में 3.58 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है। उन्होंने बताया कि माह अगस्त, 2018 में प्राथमिक वस्तु समूह के सूचकांक में माह जुलाई, 2018 की तुलना में 1.03 प्रतिशत की वृद्धि पायी गई है। प्राथमिक वस्तु समूह के अन्र्तगत कृषि वस्तुओं के उप समूह के सूचकांक में 1.21 प्रतिशत की वृद्धि जबकि खनिज उप समूह के सूचकांक में 0.27 प्रतिशत की कमी दर्ज की गई है। र्वाषिक आधार पर अगस्त, 2017 की तुलना में प्राथमिक वस्तु समूह सूचकांक में 1.84 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है।
बैरवा ने बताया कि र्इंधन, शक्ति, प्रकाश एवं उपस्नेह समूह के सूचकांक में माह अगस्त, 2018 में गत माह की तुलना में 0.74 प्रतिशत की वृद्धि पाई गई है। र्वाषिक आधार पर अगस्त, 2017 की तुलना में 9.64 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है।
इसी प्रकार माह अगस्त, 2018 में विर्निमित उत्पाद समूह के सूचकांक मेें गत माह की तुलना में 0.02 प्रतिशत की कमी दर्ज की गई है जबकि अगस्त, 2017 की तुलना में  1.55 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है। 
उन्होंने बताया कि माह अगस्त, 2018 में प्राथमिक वस्तु समूह का 303.46, कृषि वस्तुओं के उप समूह का 301.29, खनिज उप समूह का 319.85, ईंधन, शक्ति, प्रकाश एवं उप स्नेहक समूह का 471.55 तथा विर्निमित उत्पाद समूह का 248.82 थोक मूल्य सूचकांक दर्ज किया गया।
Category: