राजस्थान में निजी स्कूलों में फीस बढ़ोतरी से अभिभावक परेशान

  • Posted on: 25 April 2019
  • By: admin
जयपुर। राजस्थान में निजी स्कूलों की मनमानी से सालों से अभिभावक परेशान हैं।  ना तो सरकार और ना ही शिक्षा विभाग इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहा है। ऐसे में एक बार फिर से स्कूल खुलने के साथ ही अभिभावकों की प्रताडऩा और परेशानी का दौर शुरू हो चुका है। जयपुर के कई नामी स्कूलों ने मनमाने तरीके से फीस में करीब 10 से 20 फीसदी तक की वृद्धि कर दी है। साथ ही शिक्षण सामग्री भी स्कूलों से ही खरीदने के दबाव के चलते अब अभिभावकों का आक्रोश फूटने लगा है।
पिछले एक सप्ताह से भी ज्यादा समय से जयपुर के विभिन्न स्कूलों में आंदोलन और प्रदर्शन का दौर जारी है, जो अब चरम पर है। बीते दो सप्ताह पहले वैशाली नगर स्थित डीएवी स्कूल में मनमानी रूप से फीस वृद्धि और शिक्षण सामग्री स्कूल से खरीदने का मामला सामने आया था। इसके बाद अब सी-स्कीम स्थित महावीर स्कूल और वैशाली नगर स्थित जयश्री पेरिवाल स्कूल में करीब 10 से 20 फीसदी फीस में वृद्धि के साथ ही महंगे दामों पर शिक्षण सामग्री स्कूल से ही खरीदने का दबाव डालने का मामला सामने आए है, जिसके बाद अभिभावकों ने इसके विरोध आंदोलन की राह पकड़ ली है। सोमवार को जयश्री पेरिवाल स्कूल के बाहर सैकड़ों अभिभावकों ने प्रदर्शन किया।
कई निजी स्कूलों की आई शिकायत  : शिक्षा विभाग हर साल निजी स्कूलों की मनमानी के खिलाफ  कार्रवाई की बात तो करता है, लेकिन ये सिर्फ  कागजों तक ही सीमित रह जाता है। स्कूल शिक्षा परिषद आयुक्त प्रदीप कुमार बोरड़ का कहना है कि कई निजी स्कूलों में फीस वृद्धि की शिकायत विभाग को मिली है और जिनकी जांच जारी है।
अगर स्कूलों ने नियम विरुद्ध फीस में वृद्धि की है तो सख्त कार्रवाई होगी।
तीन साल में फीस वृद्धि का नियम
अभिभावक सुनील यादव व विजय शर्मा ने आरोप लगाया है कि शिक्षा विभाग की ओर से हर तीन साल में फीस वृद्धि का नियम है, लेकिन स्कूल मनमाने रूप से हर साल फीस बढ़ा रहा है।
जयश्री पेरिवाल के साथ ही सी-स्कीम स्थित महावीर स्कूल में भी पिछले एक सप्ताह से अभिभावकों आंदोलन पर हैं। हर रोज सुबह अभिभावक स्कूल पहुंचकर फीस वृद्धि का विरोध करते हैं, लेकिन स्कूल प्रशासन अभिभावकों से वार्ता नहीं करता, जिसके बाद बड़ी संख्या में अभिभावक शिक्षा संकुल पहुंचे।
Category: