योगी सरकार का स्मार्ट सिटी प्लान, सात और शहरों को किया जाएगा विकसित

  • Posted on: 25 July 2019
  • By: admin
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पर्यटन संवर्धन योजना का ऐलान किया और कहा कि स्मार्ट सिटी के तहत उत्तर प्रदेश के दस शहरों का चयन हुआ है जबकि प्रदेश में नगर निगम 17 हैं। शेष छूटे सात शहरों को स्मार्ट सिटी के रूप में विकासित किया जाएगा। योगी ने वित्त वर्ष 2019-20 की प्रथम अनुपूरक मांगों पर विधानसभा में बोलते हुए कहा,'' वह  मुख्यमंत्री पर्यटन संवर्धन योजना  की घोषणा कर रहे हैं।
इसके लिए कुछ पैसा सरकार देगी, कुछ आपकी :विधायक की: निधि होगी, कुछ जन सहयोग और सीएसआर कॉरपोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी से धन जुटाया जाएगा।"उन्होंने उत्तर प्रदेश में पर्यटन की संभावनाएं बढाने के लिहाज से अयोध्या के  दीपोत्सव  के विस्तार, बरसाना की होली, काशी की देव दीपावली के साथ साथ इको टूरिज्म का उल्लेख किया।मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में पर्यटन विकास की काफी संभावनाएं हैं।
उन्होंने बताया कि देश में सौ शहर  स्मार्ट सिटी  के रूप में विकसित किये जा रहे हैं। उनमें दस शहर उत्तर प्रदेश के भी हैं, जहां विकास के लिए कार्य योजना बनी है। योगी ने कहा कि प्रदेश में नगर निगमों की संख्या 17 है। चयन दस शहरों का होना था इसलिए दस का ही चयन हुआ। उन्होंने कहा कि अनुपूरक मांगों में प्रावधान किया गया है कि सात छूटे शहरों का  स्मार्ट सिटी  के रूप में विकास प्रदेश सरकार करेगी। इसके लिए प्रदेश सरकार की ओर से ही राशि दी जाएगी। उल्लेखनीय है कि स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत उत्तर प्रदेश के चुने गये शहर लखनऊ, प्रयागराज, अलीगढ, कानपुर, झांसी, वाराणसी, आगरा, बरेली, मुरादाबाद और सहारनपुर हैं।
Category: