ये ऑटोमेशन से संबंधित कोर्स दिलाएंगे जॉब

  • Posted on: 25 November 2017
  • By: admin
बढ़ती प्रतस्पिर्धा के युग में एक-दूसरे से आगे रहने के लिए कंपनियों को ऑटोमेशन का सहारा लेना ही पड़ेगा। तेज गति से काम करने के लिए ऑटोमेशन की जरूरत को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। ऑटोमेशन के कारण कई सेक्टरों में नौकरियां कम हो जाएंगी और कई नौकरियां तो पूरी तरह से मार्केट से गायब ही हो जाएंगी। लेकिन, विशेषज्ञों का मानना है कि ऑटोमेशन के कारण जाने वाले जॉब की तुलना में कई नए तरह के जॉब के मौके पैदा भी होंगे। एक रिपोर्ट के अनुसार करीब 3.5 मिलियन नए जॉब ऑटोमेशन के कारण पैदा होंगे।
बशर्ते युवाओं को इन मौकों के लिए खुद को तैयार रखने की जरूरत है। मशीन लर्निंग और आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस में ज्यादातर कोर्स ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर ही मौजूद हैं। 
कोर्सेरा पर मौजूद मशीन लर्निंग कोर्स- कोर्सेरा के सह संस्थापक एंड्रयू एनजी मशीन लर्निंग में 11 हफ्ते का कोर्स करवाते हैं। वे स्टैंडफोर्ड यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर हैं। इस कोर्स में अप्लाइड मशीन लर्निंग, मशीन लर्निंग की तकनीकों और पैटर्न की पहचान के बारे में पढ़ाया जाता है। इस कोर्स में मशीन लर्निंग से जुड़ी कई केस स्टडीज भी पढ़ाई जाती है। इस कोर्स में छात्रों को प्रोबैबिलिटी, लिनीयर एलजेबरा और कंप्यूटर साइंस के बेसिक के बारे में पढ़ाया जाता है। 
उडासिटी इंट्रो टू मशीन लर्निंग- ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफॉर्म उडासिटी पर नैनोडिग्री के तहत मशीन लर्निंग में 10 हफ्ते का एक कोर्स कराया जा रहा है। इस कोर्स में मशीन लर्निंग तकनीक का उपयोग कर डाटा सेट मैनेज करने के बारे में प्रशिक्षित किया जाता है। इस कोर्स के प्रशिक्षक सेब्सटियन थ्रून और कैटी मेलोन छात्रों को बेसिक स्टैटस्टिकिल कॉन्सेप्ट और पायथन प्रोग्रामिंग के बारे में पढ़ाते हें। इस कोर्स को करने से डाटा मैनेजमेंट के बारे में पूरी जानकारी मिलती है जो आने वाले समय में काफी डिमांड में रहेगी।
एडएक्स मशीन लर्निंग-एडएक्स पर कैलिफोर्निया इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के प्रोफेसर यासिर एस अबु मुस्तफा मशीन लर्निंग पर एक कोर्स संचालित करते हैं। इसमें बेसिक थ्योरी प्रिंसिपल, एल्गोरिदम और मशीन लर्निंग के एप्लीकेशन के बारे में पढ़ाई करवाई जाती है। इस कोर्स के लिए हर हफ्ते 10 से 20 घंटे के समय की जरूरत है। यह कोर्स 10 हफ्ते का है। इसके अलावा एडएक्स के पास 5 हफ्तों का एक और कोर्स है जो मशीन लर्निंग में फ्रेशर्स को ऑफर किया जाता है।
स्टैटस्टिकिल मशीन लर्निंग- यूट्यूब पर कारनेज मेलोन यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर लैरी वासेरमैन ने मशीन लर्निंग पर वीडियो लेक्चर की एक सीरिज तैयार की है। इसमें इंटरमीडिएट स्टैटस्टिक्सि  और मशीन लर्निंग के बारे में पीएचडी के छात्रों के लिए जानकारी मौजूद है। इसके लिए आपके पास गणित, कंप्यूटर साइंस और स्टैट की जरूरी जानकारी होनी चाहिए।
गूगल डीप लर्निंग- ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफॉर्म उडासिटी मशीन लर्निंग पर एक फ्री कोर्स ऑफर करती है। मशीन लर्निंग पर गूगल का तीन महीने का कोर्स फ्रेशर्स के लिए नहीं है। यह उनके लिए है जो मशीन लर्निंग के बारे में प्राथमिक जानकारी रखते हैं। इसमें मशीन लर्निंग के बारे में और गहरी जानकारी दी जाती है।
Category: