मोर्गन स्टैनले ने कहा- तेल की बढ़ती कीमतों को सहन करने में वैश्विक अर्थव्यवस्था सक्षम

  • Posted on: 10 June 2018
  • By: admin
कंपनी के मुताबिक तेल में जो मौजूदा वृद्धि हो रही है वो उस पृष्ठभूमि के खिलाफ है जहां ग्लोबल ग्रोथ सुधार हो रहा है और वो बीती पांच तिमाहियों में ट्रेंड से ऊपर है। आह्या ने अपनी एक रिसर्च नोट में कहा, तेल की मांग और कीमतों में अनुमानित वृद्धि को लेकर, हमने गणना की है कि वैश्विक तेल भार साल 2018 में वैश्विक जीडीपी का 3.1 फीसद रहेगा, जो कि साल 2017 के दौरान 2.4 फीसद रहा था। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि वैश्विक अर्थव्यवस्था तेल की बढ़ती कीमतों को सहन करने के लिए पूरी तरह से सक्षम है।
मोर्गन स्टेनले के ग्लोबल ऑयल स्ट्रेटजिस्ट मार्टिन रेट्स को उम्मीद है कि साल 2019 की चौथी तिमाही में तेल की कीमतें (ब्रेंट क्रूड) धीरे-धीरे बढ़कर 85 डॉलर प्रति बैरल तक हो जाएंगी।
Category: