महिला उद्यमियों को रक्षा उत्पादन में हिस्सेदारी बढ़ानी चाहिए:निर्मला सीतारमण

  • Posted on: 10 May 2018
  • By: admin
नयी दिल्ली। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि महिलाओं के स्टार्ट अप में प्रवेश को सुगम बनाने और उन्हें समान अवसर मुहैया कराने के लिए कदम उठाए गए हैं ताकि वे रक्षा आपूर्ति के क्षेत्र में प्रवेश कर सकें। फिक्की महिला संगठन द्वारा वर्ष 2017-18 के लिए जारी लैंगिक समानता सूचकांक पर एक अध्ययन को जारी करते हुए रक्षा मंत्री ने कहा कि महिला उद्यमियों को रक्षा उत्पादन और खरीद में हिस्सेदारी बढ़ाने का तरीका खोजना चाहिए। मंत्री ने असंगठित क्षेत्र में महिलाओं की भागीदारी पर अध्ययन की आवश्यकता जताई क्योंकि इसमें संगठित क्षेत्र की तुलना में ज्यादा महिलाओं को रोजगार मिलता है।
फेडरेशन ऑफ इंडियन चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (फिक्की) के फिक्की लेडिज ऑर्गेनाइजेशन (एफएलओ) की तरफ से आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने कहा, 'महिला उद्यमियों को रक्षा उत्पादन और खरीद में भागीदारी बढ़ानी चाहिए जिससे महिलाओं के लिए रोजगार के अवसर मुहैया कराने में मदद मिलेगी।' मंत्री ने कहा, 'एफएलओ जैसे संगठनों को असंगठित क्षेत्र में अध्ययन कराना चाहिए जहां संगठित क्षेत्र की तुलना में ज्यादा महिलाओं को रोजगार मिलता है। 
प्रधानमंत्री के मुद्रा योजना में 50 फीसदी से ज्यादा महिलाएं लाभान्वित हुईं और उन्होंने ऋण लिया। असंगठित क्षेत्र में रोजगार सृजन और समस्याओं पर अध्ययन कराने और आंकड़े  इकट्ठा  किए जाने की जरूरत है।
Category: