भूकम्प जैसी आपदाओं में सुरक्षा का अहसास जगाती है 'एक्सरसाइज राहत'

  • Posted on: 10 February 2019
  • By: admin
जयपुर। अचानक जयपुर की जमीन कांपी और दूर तक तबाही का मंजर नजर आने लगाा। हर ओर चीख पुकार मची थी, कोई खुद अपने ही सपनों के आशियाने में दफन, टनों मलबे में दबा था तो कोई अपने अपनों को बचाने की गुहार कर रहा था। ऐसे में जीवन दूत बनकर प्रदेश में आपदा प्रबन्धन से जुड़े करीब 18 संगठनों के दलों और भारतीय सेना ने अविलम्ब मोर्चा संभाला और पूरे कौशल से लोगों की जान बचाने में जुट गए।
कुछ ऐसा ही नजारा इन दिनों सीकर रोड पर भवानी निकेतन महाविद्यालय के मैदान में नजर आ रहा है। यहां 11 फरवरी को आपदा प्रबन्धन से सम्बन्धित प्रदर्शन 'राहत' की तैयारी की जा रही है। आपदा प्रबन्धन विभाग के सचिव आशुतोष पेडणेकर एवं मेजर जनरल इंद्रजीत सिंह के सामने इस एक्सरसाईज की फुल रिहर्सल की गई। आपदा प्रबन्धन विभाग एवं सप्तशक्ति कमाण्ड द्वारा की जा रही भूकम्प के दौरान बचाव, राहत एवं पुनर्वास से सम्बन्धित इस एक्सरसाइज में राजकीय और राष्ट्रीय आपदा प्रबन्ध संगठनों को शामिल किया गया है।
शुरूआत जयपुर में 6.8 रिक्टर तीव्रता के भूकम्प से-एक्सरसाइज में दिखाया गया है कि 11 फरवरी को सुबह 9.30 बजे जयपुर में 6.8 तीव्रता का भूकम्प आता है। जयपुर में मरीज अस्पतालों में फंसे गए, सड़कें फटने से वाहन सड़कों पर क्षतिग्रस्त और जाम की स्थिति में थे तो बच्चे स्कूल की टूटी बिल्डिंग में खतरे में थे।
 
Category: