बैंकों से इतर फाइनेंस का विकल्प पेश करेगा आरबीआइ

  • Posted on: 10 September 2019
  • By: admin
मुंबई। RBI ऐसा इंटरेस्ट रेट मार्केट बनाने पर काम कर रहा है, जिसमें म्यूचुअल फंड, पेंशन और इंश्योरेंस फंड भी सिक्यूरिटीज लेंडिंग में हिस्सा ले सकें। इसका उद्देश्य बैंकों से इतर फाइनेंस का विकल्प पेश करना है। इंश्योरेंस, म्यूचुअल और पेंशन फंड में सरकारी सिक्यूरिटीज की महत्वपूर्ण हिस्सेदारी होती है, शॉर्ट सेलर्स को लोन देने में इनका प्रयोग किया जा सकता है। क्रक्चढ्ढ के डिप्टी गवर्नर बीपी कानूनगो के अनुसार,
 
RBI फाइनेंसियल सेक्टर के रेगुलेटर्स इरडा, सेबी और पीएफआरडीए के साथ मिलकर इसके लिए योजना तैयार कर रहा है। बकौल कानूनगो, भारतीय फाइनेंसियल सेक्टर ज्यादातर बैंकों पर निर्भर है। हमें इसे मजबूत फिक्स इनकम मार्केट बनाना है, जिससे फाइनेंस का दायरा बढ़ाया जा सके।
Category: