दिसंबर तक सभी घर होंगे बिजली से रोशन:आर के सिंह

  • Posted on: 25 November 2018
  • By: admin
नयी दिल्ली। बिजली मंत्री आर के सिंह ने सौभाग्य योजना के तहत सभी घरों में विद्युतीकरण का कार्य 2018 के अंत तक पूरा होने का भरोसा जताया है। उन्होंने कहा कि अभी मात्र 50 लाख परिवार बचे हैं जहां बिजली पहुंचायी जानी बाकी है। केंद्रीय तथा राज्यों के बिजली मंत्रियों की जुलाई में हुई बैठक में दिसंबर 2018 तक सभी परिवारों को विद्युत कनेकशन उपलब्ध कराने का फैसला किया गया था।
पहले यह समयसीमा मार्च 2019 थी। उन्होंने कहा कि हमने सौभाग्य के अंतर्गत 2 करोड़ घरों को बिजली के कनेक्शन देकर (19 नवंबर, 2018 तक) एक महत्वपूर्ण पड़ाव पार कर लिया है।  सिंह ने एक लेख में लिखा है कि बिजली उपभोक्ताओं का आधार प्रतिदिन एक लाख की दर से बढ़ रहा है और बिजली से वंचित परिवारों की संख्या 50 लाख से भी कम रह गयी है। उन्होंने कहा, ''इसी गति से अगर काम होता रहा तो सभी परिवार को बिजली पहुंचाने का काम करीब 50 दिन में पूरा हो जएगा। अगर हम यह कार्य तेजी से करते हैं तो कम समय में ही लक्ष्य पूरा कर लेंगे।" प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिजली से वंचित सभी परिवारों को विद्युत कनेक्शन उपलब्ध कराने के मकसद से सितंबर 2017 में 'प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना' (सौभाग्य) शुरू की थी। सिंह ने लिखा है, ''हमने देश में सभी को सातों दिन 24 घंटे बिजली पहुंचाने का लक्ष्य रखा है।
यहां बिजली उपलब्ध कराने से तात्पर्य केवल बिजली के तार खींच देना भर नहीं है, बल्कि इसमें संपूर्ण विद्युत क्षेत्र के लिए आवश्यक ढांचागत सुविधा खड़ी करना भी शामिल है, ताकि देशवासियों तक बिजली की अच्छी और विश्वसनीय आपूर्ति सुनिश्चित की जा सके।"
उन्होंने कहा कि सरकार की बिजली क्षेत्र में विभिन्न पहल के कारण ही विश्व बैंक के 'आसानी से बिजली प्राप्त करने' संबंधी सूचकांक में देश इस साल 24वे स्थान पर आ गया है, जबकि 2014 में हमारी रैंकिंग 111वीं थी।
सिंह ने यह भी लिखा है बिजली वितरण कंपनियों को पटरी पर लाने की योजना 'उदय' के अंतर्गत किए गए प्रयासों के फलस्वरूप समग्र तकनीकी एवं वाणिज्यिक क्षतियां (एटी एंड सी) 20.77 प्रतिशत से घटकर 18.72 प्रतिशत पर आ गयी है।
Category: