दार्जिलिंग की खूबसूरत वादियां बुला रही हैं... चले आइये, चले आइये

  • Posted on: 25 October 2018
  • By: admin
कुदरत का आशीर्वाद.. 
शांती का वरदान..
सफेद बादलों के बीच तैरती खूबसूरत वादियां..
सांसों में घुलती शुद्ध हवा...
कंचनजंगा की बर्फ से ढंकी चोटियां..
दिलकश नजारों की भरमार..
पहाडिय़ों में शुमार..
ये एहसास है दार्जिलिंग का। पश्चिम बंगाल में बसा दार्जिलिंग एक बेहद खूबसूरत पर्यटक स्थल है। यहां की सुंदरता आपको आपना बना लेगी। यकीन मानिए आंखों को सुकून देते यहां के खूबसूरत नजारों को देख कर आपको दिल नहीं भरेगा। यहां की दिलकश वादियों में आप लिपटते चले जाएंगे। अगर आप भी इस प्रकृतिक सुंदरता को देखता चाहते हैं तो चले आइये दार्जिलिंग, यहां की वादियां आपका इंतजार कर रही हैं। शांति और प्रकृतिक सुंदरता के साथ-साथ दार्जिलिंग में और भी बहुत कुछ खास है। तो आइए जानते हैं दार्जिलिंग शहर की और भी बाकी खूबियों के बारे में।
टाइगर हिल्स
हिंदी फिल्मों में टाइगर हिल्स का नाम तो आपने जरूर सुना होगा। टाइगर हिल्स पर कई फिल्मों की शूटिंग भी हो चुकी है। ये जगह उगते सूरज के खूबसूरत नज़ारे के लिए भारत में मशहूर है।
चाय के बागान
दार्जिलिंग अपने चाय के बागानों के लिए खासा मशहूर है। यहां के चाय के बागानों को देखने के लिए दूर-दूर से लोग आते हैं। दार्जिलिंग के दुआर में बने इन बागानों ने अपने आप में अनोखी खूबसूरती बटोर रखी है। रणबीर कपूर की फिल्म बर्फी को यहीं शूट किया गया था।
धार्मिक जगह
खूबसूरती के साथ-साथ दार्जिलिंग का धार्मिक महत्व भी है यहां पर कलिम्पोंग र्में ंड्डठ्ठद्द ष्ठद्धशद्म क्कड्डद्यह्म्द्ब क्कद्धशस्रड्डठ्ठद्द खूबसूरत और बहुत ही मशहूर मोनेस्ट्री है। जिसमें उन दुर्लभ धर्मग्रंथों को देखा जा सकता है जो 1959 में तिब्बत से इंडिया लाए गए थे। यहां आकर आप सुकून से कुछ देर बैठकर मेडिटेशन कर सकते हैं।
कुदरत का आशीर्वाद.. 
शांती का वरदान..
सफेद बादलों के बीच तैरती खूबसूरत वादियां..
सांसों में घुलती शुद्ध हवा...
कंचनजंगा की बर्फ से ढंकी चोटियां..
दिलकश नजारों की भरमार..
पहाडिय़ों में शुमार..
ये एहसास है दार्जिलिंग का। पश्चिम बंगाल में बसा दार्जिलिंग एक बेहद खूबसूरत पर्यटक स्थल है। यहां की सुंदरता आपको आपना बना लेगी। यकीन मानिए आंखों को सुकून देते यहां के खूबसूरत नजारों को देख कर आपको दिल नहीं भरेगा। यहां की दिलकश वादियों में आप लिपटते चले जाएंगे। अगर आप भी इस प्रकृतिक सुंदरता को देखता चाहते हैं तो चले आइये दार्जिलिंग, यहां की वादियां आपका इंतजार कर रही हैं। शांति और प्रकृतिक सुंदरता के साथ-साथ दार्जिलिंग में और भी बहुत कुछ खास है। तो आइए जानते हैं दार्जिलिंग शहर की और भी बाकी खूबियों के बारे में।
टाइगर हिल्स
हिंदी फिल्मों में टाइगर हिल्स का नाम तो आपने जरूर सुना होगा। टाइगर हिल्स पर कई फिल्मों की शूटिंग भी हो चुकी है। ये जगह उगते सूरज के खूबसूरत नज़ारे के लिए भारत में मशहूर है।
चाय के बागान
दार्जिलिंग अपने चाय के बागानों के लिए खासा मशहूर है। यहां के चाय के बागानों को देखने के लिए दूर-दूर से लोग आते हैं। दार्जिलिंग के दुआर में बने इन बागानों ने अपने आप में अनोखी खूबसूरती बटोर रखी है। रणबीर कपूर की फिल्म बर्फी को यहीं शूट किया गया था।
धार्मिक जगह
खूबसूरती के साथ-साथ दार्जिलिंग का धार्मिक महत्व भी है यहां पर कलिम्पोंग र्में ंड्डठ्ठद्द ष्ठद्धशद्म क्कड्डद्यह्म्द्ब क्कद्धशस्रड्डठ्ठद्द खूबसूरत और बहुत ही मशहूर मोनेस्ट्री है। जिसमें उन दुर्लभ धर्मग्रंथों को देखा जा सकता है जो 1959 में तिब्बत से इंडिया लाए गए थे। यहां आकर आप सुकून से कुछ देर बैठकर मेडिटेशन कर सकते हैं।
पीस पेगोडा
दार्जिलिंग में बना पीस पेगोडा स्तूप धार्मिक नजरिये से महत्वपूर्ण स्थल है। यह भारत के 6 शांति स्तूपों में से एक है। इस स्तूप का निर्माण महात्मा गांधी के मित्र फूजी गुरु ने करवाया था।
तीस्ता
दार्जिलिंग के तीस्ता में आप रिवर रॉफ्टिंग का एक्सपीरियंस भी ले सकते हैं। इसके अलावा यहां कई तरह की वाटर एडवेंचर एक्टिविटीज भी एन्जवॉय कर सकते हैं।
ट्रॉय ट्रेन
टाइगर हिल्स और चाय के बागान के अलावा दार्जिलिंग की सबसे खास चीज़ है यहां का रेलवे। जिसे 1919 में यूनेस्को की तरफ से विश्व धरोहर स्थल का दर्जा मिल चुका है। इस ट्रेन का सफर बहुत ही रोमांचक होता है। तो इसे भी अपने मस्ट गो डेस्टिनेशन लिस्ट में जरूर शामिल करें।
दार्जिलिंग में बना पीस पेगोडा स्तूप धार्मिक नजरिये से महत्वपूर्ण स्थल है। यह भारत के 6 शांति स्तूपों में से एक है। इस स्तूप का निर्माण महात्मा गांधी के मित्र फूजी गुरु ने करवाया था।
तीस्ता
दार्जिलिंग के तीस्ता में आप रिवर रॉफ्टिंग का एक्सपीरियंस भी ले सकते हैं। इसके अलावा यहां कई तरह की वाटर एडवेंचर एक्टिविटीज भी एन्जवॉय कर सकते हैं।
ट्रॉय ट्रेन
टाइगर हिल्स और चाय के बागान के अलावा दार्जिलिंग की सबसे खास चीज़ है यहां का रेलवे। जिसे 1919 में यूनेस्को की तरफ से विश्व धरोहर स्थल का दर्जा मिल चुका है। इस ट्रेन का सफर बहुत ही रोमांचक होता है। तो इसे भी अपने मस्ट गो डेस्टिनेशन लिस्ट में जरूर शामिल करें।
Category: