जिला परिषद् की प्रशासन एवं स्थापना स्थायी समिति की बैठक सम्पन्न

  • Posted on: 10 March 2017
  • By: admin
जयपुर। जिला परिषद् की प्रशासन एवं स्थापना स्थायी समिति की बैठक जिला प्रमुख श्री मूलचन्द्र मीना की अध्यक्षता में मंगलवार को जिला परिषद् के सभागार में आयोजित की गई। बैठक में जिला प्रमुख ने कहा प्रशासन एवं स्थापना स्थायी समिति में विचाराधीन प्रकरणों का संबंधित विभाग समय पर निस्तारण करें। उन्होंने अधिकारियों को सरकार की संचालित जन कल्याण योजनाओं का ग्रामीण जनों को ज्यादा से ज्यादा लाभान्वित करने के निर्देश दिये।  
बैठक में समिति सदस्य गिर्राज जांगीड ने समिति की बैठकों में लिये गये निर्णय की पालना करवानने के साथ सम्बंधित विभाग के अधिकारियों को उपस्थित रहने के निर्देश देने के साथ ही जिला परिषद् के अधीन पाँच विभागों के एक-एक अधिकारियों की जिला परिषद् में नियुक्ति के बारे में अपनी बात रखीं। 
उन्होंने अनुकम्पा नियुक्ति के पात्र अभ्यार्थियों को नियुक्ति देने, पालनहार योजना के तहत पात्र लाभार्थियों को लाभान्वित करने तथा सभी ग्राम पंचायत भवन व अटल सेवा केन्द्रों पर जिला प्रमुख, जिला परिषद् सदस्य, पंचायत समिति सदस्य, पंचायत समिति प्रधान व ग्राम सरपंच के मोबाईल नम्बर लगवाने का सुझाव दिया।   
जिला परिषद् के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री आलोक रंजन ने जिला परिषद् के कार्मिकों की कार्य व्यवस्था में सुधार लाने के लिए सभी कार्मिकों के आधार कार्ड बनाने के निर्देश दिये ताकि इसके माध्यम से ही कार्मिकों की कार्यालय में उपस्थिति दर्ज करने की व्यवस्था की जाए। उन्होंने आने वाली गर्मी को ध्यान में रखते हुए ग्रामीण क्षेत्र में पेयजल व बिजली व्यवस्था को सुचारू बनाने के लिए संबंधित विभाग के अधिकारियों की अलग से बैठक आयोजित करने को कहा। उन्होंने नरेगा योजना के तहत सहकारी समितियों के पास खाद्य गोदाम बनाने, विद्यालयों में खेल मैदान बनाने, पशु आश्रय स्थल बनाने के निर्देश दिये।    
बैठक में जिला परिषद् की अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी अनिता चौधरी, समिति सदस्य सर्व राम सारण, सुखराम बुनकर, केदार शर्मा, राजन तँवर, कोमल कुमावत ने भी विचार-विमर्श में हिस्सा लिया।
Category: