जांच कमेटी की प्रक्रिया सही: बार काउंसिल ऑफ इण्डिया

  • Posted on: 10 May 2019
  • By: admin
नई दिल्ली। महिला वकील द्वारा लगाए गए यौन उत्पीडन के मामले में क्लीन चीट मिलने के बाद महिला वकीलों द्वारा सीजेआई रंजन गोगोई का विरोध किया जा रहा है। तो दूसरी ओर, बार काउंसिल ऑफ इंडिया (बीसीआई) ने आरोपों की जांच करने वाली तीन न्यायाधीशों की आंतरिक जांच कमेटी द्वारा अपनाई गई प्रक्रिया को सही बताते हुए उसका समर्थन किया है।
बीसीआई ने महिला के आरोपों को न्यायपालिका की गरिमा को चोट पहुंचाने की साजिश करार दिया। काउंसिल ने वकीलों और सभी संबंधित लोगों से आग्रह किया कि वे न्यायपालिका की गरिमा और सम्मान बनाए रखने के लिए आगे आएं।
काउंसिल ने जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ के कमेटी में बाहरी व्यक्ति को शामिल किए जाने के सुझाव पर कहा कि ऐसा उन मामलों में होना चाहिए जहां शिकायतकर्ता मासूम हो या उसे कानून की कोई जानकारी न हो। उन मामलों में नहीं जहां संस्था की छवि खराब करने की कोशिश हो रही हो। को लेकर गया है।
Category: