जनवरी 2019 तक देश को मिलेंगे पहले दो 'हवाई अड्डा जैसे' रेलवे स्टेशन

  • Posted on: 25 April 2018
  • By: admin
नयी दिल्ली। रेलवे के एक लाख करोड़ रूपये स्टेशन पुनर्विकास कार्यक्रम के तहत अब से नौ महीने में देश को उसके पहले दो 'हवाई अड्डा जैसे' रेलवे स्टेशन... हबीबगंज और गांधीनगर... मिल जाएंगे। भारतीय रेलवे स्टेशन विकास निगम ( आईआरएसडीसी ) के प्रबंध निदेशक एवं सीईओ एस के लोहिया ने कहा कि मध्य प्रदेश का हबीबगंज स्टेशन दिसम्बर तक जबकि गुजरात का गांधीनगर स्टेशन जनवरी 2019 तक तैयार हो जाएगा।
उन्होंने कहा कि पुनर्विकसित गांधीनगर स्टेशन का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किया जाएगा। 
लोहिया ने कहा कि, 'इन स्टेशनों के रखरखाव और राजस्व उत्पन्न करने की पूरी जिम्मेदारी आईआरएसडीसी की होगी और हमें यह सुनिश्वित करना होगा कि ये स्टेशन राजस्व आधिक्य हों और यह इस सीमा तक हो कि उसका निवेश स्टेशन के रखरखाव और विकास में किया जा सके।'
उन्होंने कहा कि एक बार पूरी तरह तैयार होने के बाद हबीबगंज रेलवे स्टेशन के रखरखाव का खर्च चार से पांच करोड़ रूपये होगा। प्रतिवर्ष अनुमानत: राजस्व साढ़े छह करोड़ रूपये से सात करोड़ रूपये प्राप्त होगा जिसे बढ़ाकर 10 करोड़ रूपये प्रतिवर्ष करने की योजना होगी। उन्होंने कहा कि पूरे हबीबगंज स्टेशन के पुनर्विकास की परियोजना 450 करोड़ रूपये की परियोजना होगी जिसमें से 100 करोड़ रूपये स्टेशन के पुनर्विकास पर और 350 करोड़ रूपये वाणिज्यिक विकास पर खर्च होंगे। लोहिया के अनुसार गांधीनगर स्टेशन का सिविल कार्य का 42 प्रतिशत पहले ही पूरा हो गया है और यह जनवरी 2019 में वाइब्रेंट गुजरात सम्मेलन के लिए समय से तैयार हो जाएगा।
Category: