गूगल ट्रांसलेट पर अब कर सकेंगे किसी भी भाषा का हिंदी में सटीक अनुवाद

  • Posted on: 25 June 2018
  • By: admin
नई दिल्ली। जब भी ट्रांसलेशन की बात आती है तो यूजर अक्सर गूगल ट्रांसलेटर का उपयोग करना पसंद करते हैं। यही ट्रांसलेटर अब पहले से और बेहतर हो गया है और अब आप किसी भी भाषा का हिंदी में सटीक अनुवाद पा सकते हैं। इसका ट्रांसलेशन बेहतर करने के लिए कंपनी ने दो साल पहले ही इसे मशीन लर्निंग से जोड़ा था। अब इस बार कंपनी अपनी एनएमटी तकनीक को ऑफलाइन गूगल ट्रांसेलटर में उपयोग करने जा रहा है।
इस तरह बदल जाएगा ऑफ लाइन ट्रांसलेशन
गूगल ने अपने एक ब्लॉग में बताया है कि एनएमटी तकनीक के बाद ऑफलाइन गूगल ट्रांसलेट के परिणाम में बड़ा बदलाव देखने को मिलेंगे। गूगल के मुताबिक न्यूरल मशीन लर्निंग तकनीक किसी भी वाक्य को टुकड़ों में ट्रांसलेट करने के बजाये एक ही बार में ट्रांसलेट करता है। इस तकनीक में कंप्यूटर किसी इंसान की तरफ ग्रामर(व्याकरण) का ध्यान रखते हुए किसी भी वाक्य को ट्रांसलेट करता है।
अभी गूगल पर ट्रांसलेट करते समय आपको अपने मन मुताबिक परिणाम नहीं मिलता है, इसका एक बड़ा कारण शब्दों का सही जगह न होना। लेकिन अब इस तकनीक के बाद न्यूरल सिस्टम पूरे एक वाक्य को एक ही बार में ट्रांसलेट करेगा और ग्रामर को ध्यान में रखते हुए शब्दों को दोबारा से व्यवस्थित करेगा। इस बदलाव से किसी भी लेख या पैराग्राफ को ट्रांसलेट करने में मदद मिलेगी। जिससे अब ट्रांसलेट किए बड़े वाक्यों या लेख को पढऩे में ज्यादा आसानी होगी।
ऐप में होंगे यह अपडेट
गूगल ट्रांसलेट ऑफलाइन एक लाइट ऐप है। इस एप को उन जगहो को ध्यान में रखते हुए बनाया गया है जहां कम नेटवर्क नहीं आता है या फिर कम आता है। एक हर भाषा के लिए 35 से 45 एमबी का स्पेस लेता है। आप अपनी पसंद की भाषा का पैक कभी भी डाउनलोड कर सकते हैं। इसके बाद जब आप जीरो नेटवर्क जोन में जाते हैं तब आपका फोन इस ऑफ लाइन फीचर की मदद से बिना इंटरनेट के भी ट्रांसलेशन करने लगता है। गूगल अपने नए अपडेट में 59 नई भाषाओं को ऐप में शामिल करेगा।
जल्द मिलेगा हिन्दी में सटीक ट्रांसलेशन
अभी जब आप किसी भाषा को हिन्दी में या फिर हिंदी से इंग्लिश में ट्रांसलेट करते हैं तो कई बार परिणाम अजीबो गरीब आता है। लेकिन गूगल के इस अपडेट के बाद आपको पहले के मुताबिक ज्यादा सटीक ट्रांसलेशन मिलेगा।
Category: