गुजरात यूनिवर्सिटी शहीद जवानों के बच्चों को देगी फ्री एजुकेशन

  • Posted on: 10 March 2019
  • By: admin
अहमदाबाद। गुजरात यूनिवर्सिटी सेना के शहीद जवानों एवं अधिकारियों के बच्चों को पोस्ट ग्रेज्युएट सहित एम.फिल. पीएचडी तक मुफ्त शिक्षा देगी। जम्मू कश्मीर के पुलवामा में शहीद हुए सी.आर.पी.एफ. के शहीद जवानों के लिए गुजरात सहित पूरे देश से आर्थिक सहायता की घोषणा हो रही है।
ऐसे समय गुजरात यूनिवर्सिटी ने भी देश के लिए शहीद होने वाले जवानों के संतानों को किसी भी प्रकार की फीस लिए बिना ही उच्च शिक्षा देने का निर्णय किया है।
इस पर 2019 के शिक्षा सत्र से इस पर अमल किया जायेगा।
युनिवर्सिटी के सभी अनुस्नातक भवनों में नये शैक्षणिक सत्र से गुजरात पुलिस, सी.आर.पी.एफ. आर्मी, नेवी, एयरफोर्स, सी.आई.एफ.एस, आर.ए.एफ. तथा बीएस एफ सहित फोर्स के किसी भी स्थल पर फर्ज के दौरान शहीद हुए जवानों- अधिकारियों के परिजनों को लाभ मिलेगा। उल्लेखनीय है कि गुजरात यूनिवर्सिटी कैम्पस में स्थित विविध 38 भवनों में 60 कोर्स की वार्षिक 7000 से 50,000 रूपये तक फीस माफी का लाभ मिलेगा। हाल ही में जीटीयू ने उसके 450 से भी अधिक कॉलेज में पढऩे वाले 4.86 लाख छात्रों से 10 रूपये एकत्र कर पुलवामा में शहीद होने वाले जवानों की सहायता करने का निर्णय लिया है।
गुजरात यूनिवर्सिटी में साइंस, कॉमर्स, आर्ट्स, लॉ, मैनेजमेंट सहित अनुस्नातक कक्षा तक मुफ्त शिक्षा दी जायेगी। आर्टिफिशियल, बायोइन्फर्मेटिक्स, बायोमेडिकल टेक्नोलोजी, फोरेन्सिक साइंस, एम.बी.ए., एमसीए, तथा एलएमएम सहित अन्य कोर्स में प्रवेश लिया जा सकेगा। युनिवर्सिटी में पोस्ट ग्रेज्युएट लेबल से लेकर एम.फिल.पी.एच.डी सहित कुल 5400 से भी अधिक बैठक हैं।
गुजरात यूनिवर्सिटी के कुलपति डॉ. हिमांशु पंडया ने कहा कि देश की सुरक्षा के लिए शहीद होनेवाले जवान हमारे भाई हैं, युनिवर्सिटी ने उनके परिजनों को विधा दान कर उनके प्रति कृतज्ञता व्यक्त करने के लिए यह निर्णय लिया है।
Category: