कपास उत्पादन घटकर 3.5 करोड़ गांठ रहने का अनुमान:रिपोर्ट

  • Posted on: 10 June 2018
  • By: admin

मुंबई। देश में कपास उत्पादन कपास वर्ष 2019 (अक्टूबर से सितंबर) में 3.5 करोड़ गांठ रहने की संभावना है। इस का कारण खेती के रकबे का कम होना है। साख निर्धारक एजेंसी, इक्रा ने एक रिपोर्ट में कहा कि कपास वर्ष 2018 के अनुमानित 122 लाख हेक्टेयर रकबे की तुलना में इस बार कपास की खेती घटकर 114 लाख हेक्टेयर रहने के चलते घरेलू कपास का उत्पादन कपास वर्ष 2019 में घटकर 3.5 करोड़ गांठ रह जाने की संभावना है।
भारतीय कपास संघ ने अपने अप्रैल के अनुमान में कपास वर्ष 2018 में 3.6 करोड़ गांठों के उत्पादन होने का अनुमान लगाया था।
इक्रा ने कहा कि कपास उत्पादन में गिरावट, घरेलू खपत में सुधार की संभावना तथा वैश्विक स्तर पर कपास की कमी इत्यादि के कारण वर्ष 2019 में कपास की कीमतें 10 फीसदी बढ़ सकती है। इसके अलावा, एजेंसी ने कहा, खेती के रकबे में गिरावट पश्चिम और दक्षिण के प्रमुख कपास उत्पादक राज्यों की अगुवाई में होगी। व हां किसान सोयाबीन जैसे वैकल्पिक फसलों को अपना रहे हैं क्योंकि उन्हें कपास वर्ष 2018 में कीट के हमलों के कारण भारी नुकसान हुआ है।

Category: