अहमदाबाद में वेब एण्ड क्लाउड एक्सपो 2018 का आयोजन

  • Posted on: 10 February 2018
  • By: admin
अहमदाबाद। अहमदाबाद में वेब एण्ड क्लाउड एक्सपो-2018 का आयोजन किया गया। इस एक्सपो में रेस्लो, ओपन एसारस, जी.पी.एस. ऑनलाइन, ब्रान्ड लेविगेटर, 2 जीबी होस्टिंग सहित जानी-मानी 10 कम्पनियों ने हिस्सा लिया। जयपुर की एवरडाटा टेक्नोलॉजी की ओर से आयोजित इस वेब एण्ड क्लाउड एक्सपो में डिजिटल होते भारत का वो पहलू देखने को मिला जिसे देखकर लगता है कि आने वाला कल इंटरनेट की दुनिया का सुनहरा पल लेकर आएगा।
एवरडाटा टेक्नोलॉजी का इस वेब एण्ड क्लाउड एक्सपो के आयोजन का उद्देश्य भी यही है कि हमारे देश में इसके माध्यम से रोजगार बढ़े जिसके लिए एवरडाटा टेक्नोलॉजी रात-दिन नए-नये तरीके खोज रही है और इस बात को एवरडाटा टेक्नोलॉजी के फाउण्डर, डायरेक्टर, पत्रकार व समाजसेवी नवीन शर्मा ने कहा कि घबराने की बात नहीं है। आने वाला समय डिजिटल दुनिया का सबसे सुनहरा समय होगा। 
हमारे देश का उज्जवल भविष्य की अच्छी संभावनाएं हैं, अत: छोटे एवं मंझोले व्यापारी घबराएं नहीं। जो पैसा लगाने से डरते हैं, उन व्यापारियों को एवरडाटा कम्पनी एक प्लेटफार्म देगा। इन परिस्थितियों को समझते हुए एवरडाटा टेक्नोलॉजी ने ऐसे सॉफ्टवेयर बना लिये हैं जिनका उपयोग करके कम्पनियां बिना पैसा निवेश किये अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के उत्पाद एवं सेवाएं देने में सक्षम हैं। एवरडाटा पार्टनर प्लेटफार्म नामक सिस्टम के चलते ऐसी कम्पनियों 49 रुपये का डोमेन नेम और 9 रुपये का मेल सर्विसेज बेचने में सक्षम हैं।  हमारी कम्पनी उन छोटे और मंझोले व्यापारियों की कम्पनियों के लिए ऐसे कई प्लेट फार्म तैयार कर रही है 
जिससे देश में वेब व इंटरनेट की दुनिया में रोजगार बढऩे की संभावनाएं होंगी।
अहमदाबाद में हो आयोजित रहे वेब एण्ड क्लाउड एक्सपो में आये इन्टरनेट व वेब एण्ड क्लाउड के विशेषज्ञों ने हिस्सा लिया। इसी कार्यक्रम में दिल्ली से आए राजेश दूदू नासकोकॉम ब्लॉक चेन चेयरपर्सन व अहमदाबाद के विवेक सन्चेती क्रिप्टो करेन्सी के विशेषज्ञ ने बिटकॉइन, ब्लॉक चेन व क्रिप्टो करेन्सी के बारे में जानकारी दी। बैंगलोर के भावेश गोस्वामी ने क्लाउड टैक्नोलॉजी पर प्रकाश डाला। बैंगलोर के ओम ठोके ने डिजिटल मार्केटिंग से पैसा कमाने के तरीकों के बारे में बताया। अहमदाबाद के मीतेश सांघवी ने वेलकमनॉट दिया।
बिटकॉइन क्या है
बिटकॉइन एक क्रिप्टो करेन्सी है। जिसके द्वारा दुनियाभर में लेन-देन किया जा सकता है। ये दुनिया की पहली केन्द्रीयकृत डिजिटल करेन्सी है जहाँ किसी केन्द्रीय बैंक या केन्द्रीय अधिकारी का नियंत्रण नहीं है। यह पियर टू पियर नेटवर्क पर आधारित है। जहाँ किसी मध्यस्थ के बिना लेन-देन सीधे लेने वाले और देने वाले के बीच होता है।
बिटकॉइन की प्रणाली का मुख्य स्तम्भ एक ब्लॉक चेन नामक सार्वजनिक वितरण खाता है।
ब्लॉक चेन क्या है
एक लगातार बढ़ती हुई ब्लॉकों की संख्या है, जहाँ प्रत्येक ब्लॉक में रिकॉर्ड रहते हैं और एक ब्लॉक दूसरे ब्लॉक से क्रिप्टोग्राफी के माध्यम से जुड़ा होता है। यह सिस्टम इस तरह से बनाया गया है जहाँ एक बार ब्लॉक में रिकॉर्ड जाने के बाद उनका संशोधन किया जाना सम्भव नहीं है।
 
Category: