अप्रैल 2020 से सिर्फ बीएस छह मानक वाहनों की होगी बिक्री

  • Posted on: 25 July 2018
  • By: admin
नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने सोमवार को सुप्रीम कोर्ट बताया कि एक अप्रैल 2020 से सिर्फ बीएस छह मानकों वाले वाहनों का ही निर्माण होगा और बिक्री होगी। सरकार ने कहा कि इससे प्रदूषण की समस्या पर काफी हद तक रोक लगेगी। इसके अलावा सरकार ने कहा कि निजी वाहनों के लिए डीजल की अलग कीमत तय करना संभव नहीं है। मंत्रालय ने यह जानकारी जस्टिस मदन बी. लोकुर की अध्यक्षता वाली पीठ को प्रदूषण मामले की सुनवाई के दौरान दी।
मंत्रालय ने इस संबंध में कोर्ट में हलफनामा दाखिल किया है। सरकार ने कहा है कि 28000 करोड़ रुपये बीएस छह मानक का ईंधन उपलब्ध कराने पर खर्च किए गए हैं। एक अप्रैल 2020 के बाद सिर्फ बीएस छह मानक के वाहनों के निर्माण और बिक्री की इजाजत होगी। दूसरी ओर सोसाइटी ऑफ इंडियन आटो मोबाइल मैन्यूफ्रैक्चरर (एसआइएएम) की ओर से कुछ और समय मांगा गया। उनके वकील ने सरकार की ओर से इसी वर्ष फरवरी में जारी अधिसूचना का जिक्र किया जिसमें कहा गया है कि वाहन निर्माता एक अप्रैल 2020 तक बने वाहनों का जून 2020 तक पंजीकरण करा सकते हैं। इस पर स्थिति साफ करते हुए सरकार की ओर से पेश एएसजी ने कहा कि इस अधिसूचना में 31 मार्च 2020 तक बने बीएस चार मानक के वाहनों को जून 2020 तक पंजीकरण कराने का समय दिया गया है। मामले में न्यायमित्र अपराजिता सिंह ने भी एसआइएएम के वकील के विरोध करने पर कहा कि कंपनियां बीएस छह मानक के वाहन बना रही हैं।
 
Category: