यह मौसमी खांसी है या कुछ और?

  • Posted on: 10 June 2013
  • By: admin

मौसम में अचानक बदलाव आने पर आप अकसर अपने आसपास लोगों को छींकते और खांसते देख सकते हैं। दरअसल मौसम में बदलाव के साथ-साथ लोगों का खांसी के प्रभाव में आना बहुत ही आम बात है। छाती में जब वायु प्रवेश करती है तो कभी-कभी श्वास नली का दरवाजा बंद हो जाता है। बैचेनी होने पर अवरोध खुल जाता है और आवाज के साथ हवा बाहर आ जाती है। इसी स्थिति को खांसी कहते हैं। मौसमी खांसी होना तो आम बात है परन्तु श्वासनली, स्वरतंत्र या फेफड़ों में गड़बड़ी होने से महीनों खांसते रहना चिन्ताजनक है। प्राय: खांसी होने से पहले गले में खिच-खिच का अहसास होता है। खाते-पीते समय गले में कांटे सी चुभन होने लगती है। साथ ही पीडि़त व्यक

दोहरी चुनौती से जूझती कामकाजी महिलाएँ

  • Posted on: 10 June 2013
  • By: admin

समाज में अब एक क्रांतिकारी परिवर्तन आ चुका है। इसमें और चीजों के साथ ही महिलाओं की दशा भी सुधरी है। आज की महिला हर क्षेत्र में पुरुषों को कड़ी टक्कर दे रही है और सफलता के नित नए कीर्तिमान भी स्थापित कर रही है। लेकिन संयोगवश सामाजिक विकास के क्षेत्र में हुआ बदलाव पुरुषों की मानसिकता को नहीं बदल पाया है। हकीकत में पुरुष मानसिक स्तर पर इस बदलाव को सहज रूप में स्वीकार करने के लिए अभी तक तैयार नहीं हो पाए हैं। जिससे कामकाजी महिलाओं की आफिसों में मुश्किलें बढ़ रही हैं।

आइस स्कीइंग के लिए मशहूर, खूबसूरत औली

  • Posted on: 10 June 2013
  • By: admin

बद्रीनाथ धाम के निकट नंदा देवी राष्ट्रीय उद्यान के पास स्थित है गढ़वाल का मशहूर औली क्षेत्र। यहां पर घने जंगलों के साथ ही खूबसूरत पहाड़ तथा मखमली घासों से ढंके हुए मैदान फैले हुए हैं। देश का सबसे नया आइसस्कीइंग केंद्र भी यहीं पर मौजूद है। यहां पर आप बर्फ पर फिसलने का भरपूर आनंद उठा सकते हैं। बर्फ की चादरों से ढंकी यहां की खूबसूरत ढलानें एशिया की खूबसूरत ढलानों में भी गिनी जाती हैं। यहां से आप नंदा देवी, हाथी गौरी पर्वत, ऐरावत पर्वत तथा नीलकंठ पर्वत का नजारा भी बखूबी देख सकते हैं।

नारायण मूर्ति की वापसी

  • Posted on: 10 June 2013
  • By: admin

इन्फोसिस और सूचना तकनीक क्षेत्र में भारत की उत्थान कथा को अगर समानार्थी बताया जाए, तो मोटे तौर पर यह अतिशयोक्ति नहीं होगी। एनआर नारायण मूर्ति अगर एक पूरी पीढ़ी के रोल मॉडल बने तो इसीलिए कि 250 डॉलर के आरंभिक निवेश से स्थापित इस कंपनी को अपने साथियों के साथ मिलकर उन्होंने तीन दशक में सात अरब डॉलर की आमदनी वाली कंपनी बना दिया। लेकिन उनके अवकाशग्रहण के बाद कंपनी फिसलने लगी। बीते छह वर्षों में उसके राजस्व, मुनाफे और शेयरों के मूल्य में भारी गिरावट आई। इस वर्ष के लिए अनुमान है कि सूचना तकनीक उद्योग की कुल वृद्धि दर की तुलना में इन्फोसिस की विकास दर आधी रहेगी। इससे कंपनी की हैसियत गिरी है। चर्चा

सही खाएं और धरती को बचाएं

  • Posted on: 10 June 2013
  • By: admin

सोचने का विषय यह है कि हम एक ऐसी सुलभ और दीर्घकालिक कृषि-संस्कृति कैसे पुनराविष्कृत करें, जो लाखों लोगों की जरूरतों की पूर्ति भी कर सके और हमारी धरती और पर्यावरण को क्षति भी न पहुंचाए। यह एक बड़ी चुनौती है। लेकिन असंभव नहीं है। अलबत्ता इसके लिए हम सबको मिलकर प्रयास करना होंगे।

लेनोवो का नया इन्टेल प्रोसेसर स्मार्टफोन

  • Posted on: 10 June 2013
  • By: admin

नई दिल्ली। स्मार्टफोन की डिमांड दिनबदिन बढती जा रही है। हर नामी कंपनी इस बाजार पर अपनी पकड़ मजबूत बनाने की होड मे लगी है। कंप्यूटर बनाने वाली कंपनी लेनोवो ने अपने
कई स्मार्टफोन की सीरीज भारत में पेश की। कंपनी ने 6 एंंड्रॉयड पावर्ड स्मार्टफोन लॉन्च किए हैं जिनकी कीमत 8,689 रूपए से 32,999 रूपए के बीच है।

नौवहन की स्वतंत्रता का समर्थन करते हैं:एंटनी

  • Posted on: 10 June 2013
  • By: admin

बैंकॉक। एशिया-प्रशांत क्षेत्र में चीन के बढ़ते आक्रामक रवैये की पृष्ठभूमि में भारत ने आज कहा कि वह अंतरराष्ट्रीय जल क्षेत्र में नौवहन की स्वतंत्रता का समर्थन करता है तथा किसी भी विवाद या मतभेद का समाधान कूटनीति ढंग से होना चाहिए। अपने एक दिवसीय थाईलैंड दौरे पर पहुंचे एंटनी ने रक्षा उत्पाद के क्षेत्र में बैंकॉक के साथ सहयोग का प्रस्ताव भी दिया। एंटनी ने थाई समकक्ष एयर चीफ मार्शल सुकुमपोल सुवानतात के साथ बातचीत में कहा, ''हमारा व्यापार समुद्री रास्ते पर निर्भर है। ऐसे में समुद्री मार्गों की सुरक्षा और नौवहन की स्वतंत्रता हमारी आर्थिक एवं संपूर्ण सुरक्षा के लिए निर्णायक हैं। भारत अंतरराष्ट्रीय

आकाश-4 की विशेषताओं को जल्द दिया जाएगा अंतिम रूप

  • Posted on: 10 June 2013
  • By: admin

नई दिल्ली। सरकार कम कीमत वाले टैबलेट आकाश के चौथे संस्करण के लिए उसकी विशेषताओं को जल्द ही अंतिम रूप दे सकती है।

मूर्ति ने फिर संभाली इंफोसिस की कमान

  • Posted on: 10 June 2013
  • By: admin

बेंगलूरू। सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र की प्रमुख कंपनी इंफोसिस की लगातार गिरती स्थिति को थामने की कोशिश में कंपनी के निदेशक मंडल ने इसके संस्थापक एनआर नारायणमूर्ति पर एक बार फिर विश्वास जताते हुए उन्हें कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त किया है। दो साल पहले रिटायरमेंट ले चुके नारायणमूर्ति शनिवार से ही पद संभालते हुए कंपनी को फिर से अपनी पुरानी पहचान दिलाने के लिए काम करना शुरू कर दिया।

Pages