ऐसे तो मुश्किल है महाराष्ट्र का औद्योगिकीकरण

  • Posted on: 18 January 2013
  • By: admin

मुंबई। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चह्वाण 2014 के विधानसभा चुनाव को देखते हुए गुजरात की तर्ज पर राज्य का औद्योगीकरण करना चाहते हैं। उन्होंने नई उद्योग नीति इसी दृष्टि से तैयार की है। मगर दोनों राज्यों की कार्य संस्कृति को देखते हुए उनके मंसूबे पूरे होने में संदेह नजर आ रहा है। इसका सबसे बड़ा कारण दोनों राज्यों की राजनीतिक नेतृत्व क्षमता में असमानता है। गुजरात में लिए जाने वाले सभी महत्वपूर्ण निर्णयों में मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी को उनके पूरे मंत्रिमंडल का सहयोग मिलता है। मगर महाराष्ट्र में ऐसा नहीं है। इसका ताजा उदाहरण नई उद्योग नीति पर मंत्रिमंडल में हुई चर्चा है। इस दौरान कांग्रेस

एतिहाद एयरलाइंस को हिस्सा बेचेगी जेट एयरवेज

  • Posted on: 18 January 2013
  • By: admin

मुंबई। घरेलू विमानन क्षेत्र में किसी विदेशी एयरलाइंस का पहला निवेश जेट एयरवेज में हो सकता है। जेट अपनी हिस्सेदारी बेचने के लिए अबूधाबी स्थित एतिहाद एयरलाइंस से बातचीत कर रही है। बांबे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) को दी सूचना में जेट एयरवेज ने कहा है कि संभावित निवेश के मसले पर कंपनी एतिहाद से विचार-विमर्श कर रही है। यह वार्ता घरेलू एयरलाइनों में विदेशी एयरलाइनों के 49 फीसद प्रत्यक्ष विदेशी निवेश को मंजूरी दिए जाने के सरकार के फैसले के बाद हो रही है। कंपनी ने बताया है कि बातचीत प्रगति पर है लेकिन अब तक कोई शर्त तय नहीं हुई है। माना जा रहा है एतिहाद 1,800 करोड़ रुपये में जेट की 24 फीसद हिस्सेदारी ख

आइएफसीआइ बोर्ड का पुनर्गठन

  • Posted on: 18 January 2013
  • By: admin

नई दिल्ली। देश की सबसे पुरानी कर्जदाता कंपनी आइएफसीआइ लिमिटेड में हिस्सेदारी बढ़ाने के बाद सरकार ने इसके बोर्ड का पुनर्गठन किया है। कंपनी के निदेशक मंडल में दो नए निदेशक नियुक्त किए गए हैं। सरकार के पास मौजूद कंपनी के 923 करोड़ रुपये मूल्य के बांड शेयरों में तब्दील होने से कंपनी में सरकार की हिस्सेदारी बढ़कर 55.57 फीसद हो गई है। वित्तीय सेवा विभाग के सचिव डीके मित्तल ने कहा कि कंपनी के बोर्ड में दो नए निदेशक वित्त सेवा विभाग के संयुक्त सचिव अनुराग जैन और वित्त मंत्रालय के उप सचिव वीके चौपड़ा नियुक्त किए गए हैं। कंपनी के बोर्ड से संजीव कुमार जिंदल, शोभित महाजन, अतुल अशोक गलांडे और एस शब्बीर

डीएलएफ-खरीदारों के समझौते में संशोधन

  • Posted on: 18 January 2013
  • By: admin

नई दिल्ली। भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआइ) ने दिग्गज रीयल्टी कंपनी डीएलएफ और अपार्टमेंट खरीदारों के बीच हुए समझौते में संशोधन किया है। सीसीआइ का कहना है कि पुराने समझौते में रीयल्टी कंपनी ने अपनी प्रभावशाली स्थिति का दुरुपयोग किया था। इस मामले में प्रतिस्पर्धा अपीलीय ट्रिब्यूनल (कॉम्पैक्ट) के दिशानिर्देश के बाद यह संशोधन किया गया है। डीएलएफ ने सीसीआइ द्वारा कंपनी पर 630 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाए जाने के फैसले को चुनौती दी थी। सीसीआइ ने एक बयान में कहा कि कंपनी के अपार्टमेंट खरीदार समझौते में संशोधन किया गया है। इस संशोधन के तहत कंपनी की ओर से अपने प्रभुत्व का इस्तेमाल करते हुए लगाई गई

रिलायंस को सेबी ने दिया झटका

  • Posted on: 18 January 2013
  • By: admin

मुंबई। पूंजी बाजार नियामक सेबी ने फीस अदा कर शेयरों में गड़बड़ी के विभिन्न मामलों को सहमति से निपटाने के 149 आवेदन खारिज कर दिए हैं। इनमें देश की दिग्गज कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआइएल) के 16 आवेदन भी शामिल हैं। ये आवेदन आरआइएल समूह की विभिन्न इकाइयों की ओरसे दिए गए थे। रिलायंस के चेयरमैन मुकेश अंबानी के करीबी मनोज मोदी की याचिका को भी नियामक ने ठुकरा दिया है। भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) का मानना है कि संबंधित मामलों को केवल कुछ शुल्क लगा कर नहीं निपटाया जा सकता। जिन अन्य फर्मो और व्यक्तियों के आदेवन खारिज किए गए हैं उनमें ब्रोकरेज फर्म इंडिया इन्फोलाइन, एचएसबीसी इन्वे

पेट्रोनेट में एडीबी की हिस्सेदारी खरीदने की इच्छुक आइजीएल

  • Posted on: 18 January 2013
  • By: admin

नई दिल्ली। इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड देश की सबसे बड़ी प्राकृतिक गैस आयातक कंपनी पेट्रोनेट एलएनजी में एशियाई विकास बैंक (एडीबी) की 5.2 फीसद हिस्सेदारी खरीदने की इच्छुक है। एडीबी पेट्रोनेट की यह हिस्सेदारी बेचने की तैयारी कर रहा है। आइजीएल द्वारा यह हिस्सेदारी खरीदे जाने से पेट्रोनेट के मुख्य प्रवर्तक और इसके प्रबंधन के बीच लंबे समय से चल रहा विवाद खत्म हो सकता है। पेट्रोनेट की प्रमोटर कंपनियां आइओसी, ओएनजीसी, गेल और बीपीसीएल हैं। यह कंपनियां पेट्रोनेट में एडीबी की 5.2 फीसद हिस्सेदारी खरीदना चाहती हैं लेकिन तेल सचिव के नेतृत्व वाले कंपनी प्रबंधन ने इस प्रस्ताव का विरोध किया है। प्रबंधन का कहना

इंफोसिस से बाहर होंगे पांच हजार कर्मचारी

  • Posted on: 18 January 2013
  • By: admin

नई दिल्ली। देश की दूसरी सबसे बड़ी आइटी कंपनी इंफोसिस ने खराब प्रदर्शन करने वाले कर्मचारियों को दूसरी नौकरी तलाशने को कह दिया है। कंपनी के इस फैसले से करीब 5000 कर्मचारी प्रभावित होंगे। इंफोसिस ने एक बयान जारी कर कहा है कि यह प्रदर्शन आधारित कंपनी है। इसलिए कमजोर प्रदर्शन करने वालों को ज्यादा दिन तक नौकरी पर रखा नहीं जा सकता। कंपनी ने साफ किया है कि उनकी छंटनी नहीं की जा रही है बल्कि उन्हें दूसरी नौकरी ढूंढने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। इससे पहले आई खबरों में कहा गया था कि इंफोसिस 5,000 कर्मचारियों की छंटनी करेगी। कंपनी ने इस खबर का खंडन करते हुए कहा है कि छंटनी की खबरें गलत हैं। यह फैसला

हिंदुस्तान कॉपर का मुनाफा 21 फीसद घटा

  • Posted on: 18 January 2013
  • By: admin

नई दिल्ली। सार्वजनिक क्षेत्र की हिंदुस्तान कॉपर का शुद्ध लाभ अप्रैल-नवंबर अवधि में 21.5 फीसद घटकर 110.35 करोड़ रुपये रह गया। कॉपर की वैश्विक कीमतों में गिरावट के चलते कंपनी के लाभ में यह कमी आई है। देश में तांबा अयस्क का उत्पादन करने वाली इस एकमात्र कंपनी को पिछले साल की समान अवधि में 140.66 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था। कंपनी ने चालू वित्त वर्ष 2012-13 में 224 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हासिल करने का लक्ष्य रखा है। लंदन मेटल एक्सचेंज (एलएमई) पर कीमतों में कमी के चलते कंपनी का यह लक्ष्य हासिल होने की उम्मीद नहीं है। नवंबर 2012 में एलएमई पर कॉपर की औसत कीमत 7,694 डॉलर प्रति टन रही, जो इससे

पूरा समाज 'मर्यादा में रहे:कैलाश विजयवर्गीय

  • Posted on: 18 January 2013
  • By: admin

इंदौर। अपने विवादास्पद बयान पर सफाई देते हुए मध्य प्रदेश के उद्योग मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने आज कहा कि वह केवल महिलाओं के नहीं बल्कि पूरे समाज के मर्यादा में रहने के पक्षधर हैं और उनकी बात को मीडिया के एक हिस्से में तोड़मरोड़ कर पेश किया गया। विजयवर्गीय ने नजदीकी कस्बे राउ में सैकड़ों महिलाओं के पाद पूजन (पैरों की पूजा) कार्यक्रम के बाद संवाददाताओं से कहा, 'मेरे हालिया कथन को तोड़ मरोड़कर कुछ इस तरह पेश किया गया जिससे लगता है कि मैंने महिलाओं के खिलाफ बयान दिया, जबकि ऐसा हर्गिज नहीं है।

लखनऊ में पारा शून्य से नीचे, ठंड से 24 और मरे

  • Posted on: 18 January 2013
  • By: admin

लखनऊ। उत्तराखंड के पर्वतीय इलाकों से बर्फीली हवा और उसके चलते बढ़ी गलन से उत्तर प्रदेश के लोग बेहाल हैं। ठंड का रौद्र रूप जारी है और लखनऊ, कानपुर, आगरा तथा गाजीपुर में पारा शून्य से नीचे जा लुढ़का है। सूत्रों के मुताबिक ठंड की चपेट में आने से पिछले 24 घंटे के दौरान कम से कम 24 लोगों की मृत्यु हो गयी। इनमें उन्नाव और बाराबंकी में पांच-पांच, महोबा तथा चित्रकूट में तीन-तीन, देवरिया, ललितपुर तथा मउ में दो-दो एवं फिरोजाबाद और हाथरस में एक-एक मौत शामिल है। इसके साथ ही इस मौसम में ठंड लगने से मरने वालों की संख्या बढ़कर 199 हो गयी है। मौसम विभाग के अनुसार पिछले 24 घंटे के दौरान कानपुर में न्यूनतम त

Pages